पपीते के पत्ते के फायदे: Papita Ke Patte Ke Fayde

पपीते के पत्ते के फायदे: वैसे तो सभी फलों से हमें कुछ ना कुछ स्वास्थ्य संबंधी फायदे जरूर मिलते हैं, लेकिन फलों से ज्यादा पत्तों में लाभकारी गुण मौजूद होते हैं जो इंसान के अच्छे से अच्छे रोगों के लिए भी बहुत कारगर होते हैं, और पपीते के पत्ते इनमे सबसे ऊपर आते है.

पपीते के पत्ते के फायदे की अगर बात करें तो ये बड़ी से बड़ी बीमारियों के लिए भी बहुत सहायक है, जैसे की पपीते का पत्ता डेंगू जैसी खतरनाक बीमारियों से भी लड़ने में मदद करता है। पपीते के पत्ते का जूस पीने से खून में प्लेटलेट्स बढ़ता है।

डेंगू-मलेरिया, यहां तक कैंसर-डायबिटीज जैसी कई बड़ी और खतरनाक बीमारियों के लिए पपीते का पत्ता (Papaya Leaves) एक असरदार दवा है।

आज के इस आर्टिकल में हम पपीते के पत्ते के फायदे (Papita Ke Patte Ke Fayde) के बारे में विस्तार से जानेंगे. अतः पोस्ट को अंत तक पढ़े.

पपीते के पत्ते के फायदे (Papita Ke Patte Ke Fayde)

पपीते के पत्ते के फायदे (Papita Ke Patte Ke Fayde) निम्नलिखित है:

1. डेंगू में पपीते के पत्ते के फायदे

डेंगू होने पर प्लेटलेट्स की संख्या तेजी से कम होने लगती है। सिरदर्द, बुखार व जोड़ों में दर्द परेशानी को और बढ़ा देता है। खासतौर से प्लेटलेट्स में कमी और बुखार के कारण शरीर में टूटन महसूस होने लगती है। ऐसे में पपीते के पत्ते में मौजूद आयुर्वेदिक गुण बुखार को कम करने के साथ ही प्लेटलेट्स की संख्या को बढ़ाने में भी मदद करते हैं। पपीते में अल्कलॉइड, पेपैन जैसे कई महत्वपूर्ण पोषक तत्व होते हैं जो शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाते हैं। इससे शरीर में फैले संक्रमित वायरस व बैक्टीरिया को काबू करने में मदद मिलती है।

2. डायबिटीज में पियें पपीते के पत्ते का जूस

डायबिटीज में पपीते के पत्तों का जूस एक लाभकारी दवा है। बता दें कि, पपीते का जूस पीने से ब्लड शुगर (खून में कोलेस्ट्रॉल) का लेवल कम हो सकता है इसलिए डायबिटीज के मरीजों को रोजाना थोड़ी मात्रा में पपीते के पत्तों का जूस पीना चाहिए। एक शोध के मुताबिक ऐसा देखा गया है कि पपीते के पत्तों का जूस पीने से खून में शुगर की मात्रा घटती है और लिपिड लेवल भी कम होता है।

3. ​मलेरिया भी करता है कंट्रोल

अब तक हुए कई एक्सपेरिमेंट्स में यह बात भी सामने आयी है कि पपीते की पत्तियों के जूस या अर्क की मदद से मलेरिया का सफल इलाज हो सकता है। पपीते की पत्तियों में प्लाज्मोडीस्टैटिक प्रॉपर्टीज होती है जो अप्रत्यक्ष रूप से मलेरिया के फीवर को कंट्रोल करने में मदद करता है।

4. कैंसर से लड़ने में मदद करता है पपीते के पत्तों का जूस

यदि किसी को कैंसर की शिकायत है तो वो पपीते के पत्ते का जूस पीकर अपने इस गंभीर रोग का इलाज कर सकता है। एक शोध में पाया है कि कैंसर में पपीते के पत्तों के जूस का सेवन शरीर में ट्यूमर को विकसित करने से रोकता है। इसके अलावा पपीते में कैंसर रोधी गुण मौजूद होते हैं, जो क्रॉनिक मायलोमोनोसाइटिक ल्यूकीमिया को रोकते हैं।

5. ​पाचन तंत्र रहेगा हेल्दी

पपीते की ताजी पत्तियों में पेपिन, काइमोपेपिन औऱ कई जरूरी फाइबर होते हैं और जब इसके जूस का सेवन किया जाता है तो यह हमारे पाचन तंत्र को दुरुस्त करने के साथ ही पेट फूलना, सीन में जलन होना, खट्टे डकार आना, अपच महसूस होना और कब्ज जैसी कई समस्याओं को दूर करने में मदद करता है।

6. लिवर को रखे हेल्दी

शरीर में कलेस्ट्रॉल के लेवल को कम कर खून को भी साफ करने का काम करती हैं पपीते की पत्तियां। कलेस्ट्रॉल के लो लेवल से लिपिड का पेरॉक्सिडेशन भी कम होता है जिससे आपका लिवर कई तरह की बीमारियों से बचा रहता है जैसे- जॉन्डिस, लिवर सिरॉसिस आदि।

7. स्किन और बालों के लिए फायदेमंद

पपीते की ताजा पत्तियों का जूस स्किन के लिए मॉइश्चराइजर का काम करता है जो स्किन के बंद रोमछिद्रों को खोलकर पिंपल, ऐक्ने और ऑइली फेस की समस्या से छुटकारा दिलाता है। साथ ही पपीते की पत्तियां डैंड्रफ दूर करने में भी मदद करती हैं। इन पत्तियों को कूटकर स्कैल्प पर लगा लें। ऐसा करने से स्कैल्प में मौजूद ऐक्सेस ऑइल, गंदगी और जड़ों में जमा गंदी को दूर कर स्कैल्प को मॉइश्चराइज करने में मदद मिलती है जिससे डैंड्रफ की समस्या खत्म हो जाती है।

DISCLAIMER

यहाँ पर दी गयी जानकारी का उपयोग किसी भी स्वास्थ्य संबंधी समस्या या बीमारी के निदान या उपचार हेतु बिना विशेषज्ञ की सलाह के नहीं किया जाना चाहिए। चिकित्सा परीक्षण और उपचार के लिए हमेशा एक योग्य चिकित्सक की सलाह लेनी चाहिए। Rolm.net वेबसाइट पर उपलब्ध सभी जानकारी केवल शिक्षा के उद्देश्य से लिखी गयी है, अतः यहाँ उपलब्ध कोई भी जानकारी या उपचार कभी भी, किसी भी प्रकार के बिमारी का सटीक इलाज होने का दावा नहीं करती है।

Join Us On Telegram

इसी प्रकार हेल्थ और फिटनेस से सम्बंधित उपयोगी जानकारियां रोजाना पढने के लिए हमारे टेलीग्राम चैनल को अभी जॉइन करें!

Leave a Comment